सुषमा स्वराज – Hat’s off to you mam

Best MEA minister....

गुरप्रीत जो अपनी 7 साल की बच्ची के साथ ज़र्मनी में रिफ्यूजी कैंप में फसी हुई थी अपने ससुराल वालो की वजह से ने अपना दर्द बताते हुए एक विडियो सोशल मीडिया में अपलोड किया और भारत सरकार से मदद की गुहार लगाई.

यह है वोह विडियो जो गुरप्रीत ने सोशल मीडिया पर अपलोड किया था .

बस फिर क्या था, विदेश मंत्रालय तुरंत हरकत मैं आया और ज़र्मनी मैं भारतीये एम्बेसी से संपर्क साधा गया .

गुरप्रीत जो हरयाणा के फरीदाबाद के रहने वाली है अब उन्हें वापस भारत लाया जा रहा है . उनके भारत आने के सभी इन्तेजाम भारत सरकार ने कर लिए है .

हलाकि ये कोई पहली घटना नही है जब विदेश मैं फसे किसी भारतीय ने सीधा संपर्क साधा हो सोशल मीडिया के जरिये मोदी सरकार से, पहले भी ऐसी कई स्टोरीज हम सुन चुके है, और ये जानते भी है के श्रीमती सुषमा स्वराज के नेतृत्व में विदेश मंत्रालय ने अब तक हर उस भारतीय की मदद की है जिस ने भी उन से मदद की गुहार लगाई है . हर समय आगे बढ़ कर सुषमा जी ने अपना फ़र्ज़ निभाया है . गुरप्रीत से भारतीय एम्बेसी के संपर्क किये जाने के बाद सुषमा जी ने ही इस बात की पुष्टि की – के गुरप्रीत को भारत लाने के सभी तयारी की जा चुकी है .

Comments

comments

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY