स्कूल में तेंदुआ

0
1009

ये घटना बेंगलुरु की है, बीते रविवार शाम लगभग 4 बजे बेंगलुरु के विब्ग्योर स्कूल में अचानक एक बड़ी दिवार फांध कर घुस आया एक तेंदुआ, विब्ग्योर स्कूल बंगलुरु का एक मन हुआ स्कूल है, हलाकि उस दिन अवकाश होने के कारण बच्चे स्कूल में नही थे, तो कोई बड़ा हादसा होने से बच गया, पर स्कूल प्रशासन के और बाकि मोजुदा लोगो में से 6 लोगो को इसने घायल कर दिया, जिन्हें बाद में निकट अस्पतान में इलाज के लिए ले जाया गया .

वन विभाग के टीम को भी इस तेंदुए को पकड़ने में काफी मशकत करनी पड़ी, बेहोशी का डॉट मरने के बाद भी काफी देर तक तेंदुआ आक्रामक रहा, वहा मोजूद एक इन्सान की तो लगभग एक बाजु ही चबा डाली इस तेंदुए ने .

प्रशन ये भी उठता है के कैसे और किन करना से जंगली जानवर शेहरी इलाको का रुख कर रहे है , और क्या हमारे पास इस चीज़ के पुख्ता इन्तेजाम के वन विभाग की टीम पूरी तयारी के साथ समय रहते हमारे पास पहुच जाएगी ? जंगली जानवरों का शेहरी इलाको का रुख करना एक तरह से हम सभी के लिए खरे की घंटी भी है, उन कारणों को जानना अब बेहद जरूरी हो जाता है जिस वजह से ये सब घटनाये होती है . हाल ही में तेंदुए की शेहरी इलाको में घुसने की घटनाये काफी बढ़ गयी है , बेंगलुरु की बात को अगर छोड़ दे तो कई अन्य राज्यों से भी तेंदुए के रिहाशी इलाको में आने की काफी घटनाये दर्ज़ की गयी है .

स्कूल के cctv कैमरा में जैसे ही स्कूल प्रशासन को तेंदुआ दिखाई दिया आनन् फानन में स्कूल प्रशासन ने सीधा वन विभाग को फ़ोन लगाया और उनसे मदद की गुहार लगाई, तब वन विभाग की टीम ने समय रहते सब संभाल लिया, ये घटना वोह भी पीड़ादायक होती अगर उस दिन रविवार न होता, पर कहते है जाकों राखे साईं मार सके न कोंई .

 

 

Comments

comments