मशहूर कार्टूनिस्ट सुधीर तैलंग नही रहे

उनके द्वारा हर बड़ी सक्शियत पोलिक्टिकल या अन्य का चित्रण कार्टून में किया गया जिसे पाठको ने खूब सराहा

0
326

कार्टूनिस्ट सुधीर तैलंग जो की brain tumor से जूझ रहे थे, की शनिवार को मृत्यु हो गयी. वह 55 वर्ष के थे और उनका इलाज एक private सिटी हॉस्पिटल में चल रहा था. परिवारजनों ने बताया औहोने आखिरी सांस 12.30 दोपहर शनिवार को ली और उनका क्रियाक्रम 2 बजे दोपहर कल लोधी रोड क्रेमातोरियम में किया गया.

मेदंता हॉस्पिटल के डॉक्टर के अनुसार उनका इलाज दो साल से चल रहा था. और वह होप्सितल में पिछले एक महीने से थे उनके बचने के चांसेस काफी कम थे. उन्हें GBM-4 स्टेज का tumor था वह दो सर्जरी और कीमोथ्रेपी करवा चुके थे.

उन्हें उनके काम के लिये २००४ में पद्म श्री से परुस्कृत किया गया था.

cartoon

बीकानेर में जन्मे ने अपना पहला कार्टून 1970 में प्रकशित किया था. पहले Illustrated Weekly of India, 1982 और उसके बाद नवभारत टाइम्स के साथ दिल्ली में. उन्होंने सभी बड़ी इंग्लिश newspapers के साथ काम किया. उनका आखिरी असाइनमेंट Asian Age के साथ था. उनके द्वारा हर बड़ी सक्शियत पोलिक्टिकल या अन्य का चित्रण कार्टून में किया गया जिसे पाठको ने खूब सराहा.

Comments

comments