दिल्ली बना कुडे का ढेर

0
301

दिल्ली सरकार आम आदमी पार्टी और भा.जा.पा की मुनिसिपलिटी कोर्पोरतिओन्स के बीच का द्वंद बन गया है दिल्ली के आम नागरिको के लिये मुसीबत का कारण. सेलरीस की फंडिंग को लेकर मुन्सिपलिटी कारपोरेशन के कर्मचारी हडताल पर है, उन्हें तीन महीनो से वेतन नहीं मिला जिस कारण से वो हड़ताल पर है. परन्तु पांच दिन बाद भी समस्या ज्ययो की त्ययो बनी हुई है.

kuda

आप और भा. जा. पा एक दूसरे पर इल्जाम लगा रहे फंडिंग की जिम्मेदारी को लेकर. MCD टीचर्स और लगभग 7000 डॉक्टर्स और 120000 नर्सेस भी हड़ताल पर है. जिससे की स्तिथि और भी गम्भीर हो गयी है. ऊपर से कूड़े का ढेर जहा तहा पडा हुआ जिस से बीमारी फेलाने का भी डर है. दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंदर जैन ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाकर MCD नार्थ और ईस्ट के सीनियर अफसरों के साथ स्तिथि का जयाजा लिया है.

130,000 से भी जयदा वर्कर्स इस हड़ताल में हिस्सा ले रहे है. मुनिसिपलिटी स्कूल और हॉस्पिटल्स बन्द पड़े है. कूड़े के ढेरो से कही दिल्ली की रोड जाम है और बदबू से लोगो का बुरा हाल है. प्रोतेस्त के कारण शानिवार को जगहा जगहा जाम देखने को मिला.

जल्द ही आप और भा. जा.पा. को अपने differences भूला कर दिल्ली वालो की सुध लेने चहिये.

Comments

comments