कन्हैया कुमार हुआ बेनकाब, JNU गर्ल स्टूडेंट का खुलासा 2015 की है ये बात

0
273

यूनिवर्सिटी प्रशासन द्वारा किया गया था कन्हैया कुमार पर जुर्माना गलत व्यवहार और धमकाने के लिए एक गर्ल स्टूडेंट को जिन्होने कन्हैया को कैंपस की सड़क पर खुले में “Urinate” करने को मना किया. यह वाकया है १० जून २०१५ का जब कन्हैया स्टूडेंट यूनियन के प्रेसिडेंट नहीं थे.

वह लड़की अब दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ाती है, उनके मना करने पर अपने इस हरकत पर कन्हैया ने उनसे माफ़ी मांगने की बयाए उन्हें “psychopath” कहा था.

दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ाने वाली इस महिला की शिकायत पर कोई कड़ी सजा की बयाए कन्हैया के केरियर को ध्यान में रखते हुए उन पर ३००० रूपये का जुर्माना लगया था वाईस चांसलर के कहने पर, १६ अक्टूबर २०१५ के आर्डर अनुसार. ऐसा तब के चीफ प्रॉक्टर कृष्णा कुमार ने बतलाया. कन्हैया को जे एन यु प्रशासन द्वारा की गयी प्रोक्टोरिअल इन्क्वायरी में दोषी पाया गया था.

लड़की द्वारा सोशल मीडिया में हस्ताक्षर के बिना JNU के आदेश को भी शेयर किया जिसकी पुष्टि JNU प्रशासन ने की है. उनके द्वारा कन्हैया को झूठा क्रांतिकारी बताया जो महिलाओ की इज्जत नहीं करता है. इनका नाम कमलेश परमेश्वरी कमलेश है और इन्होने अपनी फेसबुक पोस्ट द्वारा एक ओपेन लैटर में इन सब बातो का खुलासा किया है.

पूरा पत्र और JNU आर्डर यहाँ पढ़े;

Why to create ‘False Revolutionaries’ : My open letter to the‘Upholder of Women Dignity’ Mr KanhaiyaThis spring will…

Posted by Kamlesh Parmeshwari Kamlesh on Wednesday, 2 March 2016

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here