आर के पचौरी केस में शिक्यत्कर्ता ने जबरदस्ती किस और dirty-talk का आरोप लगया था

0
166

TERI के फॉर्मर डायरेक्टर जनरल आर के पचौरी पर लगे सेक्सुअल हरास्स्मेंट केस में शिक्यात्कर्ता ने अपने ब्यान में पचौरी द्वारा जबदस्ती kiss करने और आपतिजनक बातो को करने का आरोप भी लगया था. यह ब्यान उन्होंने पिछले साल फेबुरारी में दिया था मजिस्ट्रेट के समक्ष ओअथ के अंडर दिया था जिसकी कानूनी वैद्यता है.

 

उसमे जिक्र है क्लाइमेट चेंज समिट 2014 का जिसमे कुछ पुरुष सह्क्रमियो के साथ बात करने पर पचौरी ने उनहे धमकया था और कहा था की वह complainant के बॉयफ्रेंड जो कभी हुआ को castrate कर देंगे. यह जब वह फ्लाइट बोर्ड कर रहे थे लोस काबोस मेक्सिको में. और उस से पहले अक्टूबर 2013 में पेरिस ट्रिप के वक़्त उन्होंने कोम्पैन्तंत को फोर्सिब्ली kiss किया था जिसका उन्होंने विरोध किया था. अगस्त 2013 में उन्होंने “Return to Almora” नावेल दी थी जिसमे काफी आपतिजनक चीजे थी और जो की पचौरी द्वारा ही लिखा हुआ था.

 

पिछले हफ्ते एक और महिला ने ब्यान दिया है सेक्सुअल हरास्स्मेंट चार्ज लगाते हुए आर के पचौरी पर. उन्होंने भी पचौरी द्वारा नावेल के manuscript पढने को कहा जो की आपतिजनक बातो से भरा था. वह 2003-2004 में TERI की एम्प्लोयी थी.

 

शिक्यात्कर्ता ने कहा उनके पास काफी साबूत है जो साबित करते है की पचौरी का आचरण आपतिजनक था और सेक्सुअल हरास्स्मेंट का चार्ज उन पर बनता है. पचौरी अक्सर आपतिजनक कमेंट्स पास करते थे दूसरी महिलो के लिए उनके सामने.

 

पचौरी जो इस समय लम्भी छुटी पर है ने सभी आरोपों को गलत बतया है. उन्होंने उनके बेहल्फ़ पर किसी मेल रेसेअर्चेर का दबाव डालना complainant को भी गलत बतया है. जबकि मेल रेसर्चेर ने सिक्यत्कर्ता से आउट ऑफ़ कोर्ट सेटलमेंट करने की बात मानी है.

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here