image source
image source

भोले शंकर की महिमा अपरम्पार है , सावन का महिना जी ही शुरू होता है पूरा हिन्दू समाज भोले की भक्ति में डूब जाता है, कावडियो का जोश तो जैसे देखते ही बनता है, पर क्या कभी आपने यह सोचा है के आखिर सावन में महीने ऐसी क्या खास बात है के भोले बाबा को यह इतना ज्यादा पसंद है ?

image source
image source

इसके पीछे पुराणों और ग्रंथो में जो कहानी लिखी गयी है वोह यह है के – सावन के इसी महीने में माँ पार्वती में शिव की तपस्या की थी और उन्हें पाया था , भोले बाबा ने सावन के इसी महीने में उन्हें दर्शन दिए थे. तभी से भोले के भक्तो में यह विश्वास हो चला है के वोह सावन के इस महीने में जल्दी खुश हो जाते है और अपने भक्त जनों की सारी इच्छाए पूरी करते है .

image source
image source

सावन के इस महीने में भोले के हर अम्न्दिर में उनका विशेष साज शिंगार किया जाता है, भक्त जनों के द्वारा बाबा के शिवलिंग पर फल – फूल – दूध – नारियल – आदि अर्पित किए जाते है . जिस भी दिशा में देखो वहा बम बम भोले – ॐ नम शिवाय – जयकारे ही सुने देते है .

image source
image source

कहा जाता है के जो भी इन्सान सच्ची श्रद्धा भक्ति के साथ सावन के इस महीने में भोले बाबा का दर्शन कीर्तन करता है, उनकी सच्चे मन से  आराधना करता है, बाबा उसके सारे दुःख हर लेते है और उसकी सभी मनोकामनाओ को पूरा करते है.

 

Comments

comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here