जावेद अख्तर का करारा जवाब असदुद्दीन ओवैसी को

0
399

आज जावेद अख्तर जो की राज्य सभा के मनोमीत सदस्य है ने तीन बार “भारत माता की जय का उद्घोष” कर, असदुद्दीन ओवैसी के कल के बयाँ जिसमे उन्होंने सविधान का हवाला देते हुए मोहन भगवत के इस सुझाव को की सब को “भारत माता की जय” का नारा लगाना चाहिए पर आपति उठाई थी और ऐसा करने से मना किया था, को बिना उनका नाम लिए सबक सिखाया. और यह भी कहा आंध्र प्रदेश के कोई शकस जो अपने को नेता मानते, जिनकी हैसियत शयाद एक मोहल्ले या शहर से जायदा नहीं है. उनका कहना की वह “भारत माता की जय” किसी भी हाल में नहीं कहेंगे क्यूंकि ऐसा सविधान में नहीं लिखा है.

जावेद अख्तर ने पुछा सविंधान में शेरवानी और टोपी पहनने की बात कहा लिखी है. उन्होंने कहा, ‘बात यह नहीं है कि भारत माता की जय बोलना मेरा कर्तव्य है या नहीं, बात यह है कि भारत माता की जय बोलना मेरा अधिकार है. मैं कहता हूं- भारत माता की जय, भारत माता की जय, भारत माता की जय. सब सदस्यों ने इस का ताली बजा के स्वागत किया. साथ में उन्होंने सता पक्ष वालो को भी आड़े हाथ लिया यह कह कर की BJP को भी ध्रुवीकरण और धर्म के नाम पर सम्पर्धयिक भावनाओ का फ़ायदा नहीं उठाना चाहिए. उन्होंने सत्तारूढ़ भाजपा से कहा कि वह अपने उन विधायकों, सांसदों, राज्य मंत्रियों और मंत्रियों तक को रोके जो नफरत फैलाने वाले बयान देते हैं.

Comments

comments