BB ki Vines का यह Father’s Day पर वीडियो सच मे जबरदसत है

0
876

अाजकल जहा बच्चो के पास टाइम नहीं है मा-बाप के लिए, जबकि प्यार है लेकिन टाइम नहीं निकाल पाते उनके साथ बैठ कर बात करने के लिए. वह यह नहीं समझते मा-बाप को सिर्फ अपने बच्चो का थोड़ा स ध्यान ही चाहिए. हम भूल जाते है की उन्होंने हमे अपना सरा समय दीया था, हमे पालते हुए.

सच मे जब वह चले जाते है तो वह याद अाते है, अपनी भूल का एहसास होता है की वह ह्मसे कुछ घड़ी बैठकर हाल ही तो बाटना चाहते थे. मोबाइल पेस्ड वाली ज़िंदगी मे कही हम अपने पेरेंट्स को तो नहीं नेग्लेक्ट कर रहे? पैसा कमाने की होठ हमे अपने मा-बाप से दूर तो नहीं लेके जा रही; सोचे!

Comments

comments