रविजोत सिंह ने JNU के कन्हैया को सुना दी साधू और बिच्छु की पुरानी कहानी , और इस कहानी के द्वारा उन्होंने JNU के कन्हैया को बता डाला है बिच्छु .

रविजोत सिंह ने कन्हिया को यह कहा के देश की जनता को वोह ठीक नही लगा जो उन्होंने किया, हलाकि उनके सब्दो में रोष थे पर जुबान पर गरिमा बनी हुई थी .

रविजोत सिंह ने कहा के अगर JNU के कन्हिया को आज़ादी चाहिए तो सबसे पहले देश के लोगो के पैसे से जो उसे सब्सिडी मिलती है JNU की फीस माफ़ी के तौर पर पहले वोह लेने बंद करे.

रविजोत को इस बात पर भी गुस्सा था जो JNU के कन्हिया ने रिटायर्ड आर्मी ऑफिसर्स के बारे में कहा ..

रविजोत ने कानून से भी कन्हैया की जमानत पर दुबारा गौर करने को कहा , के जिन शर्तो पर उसे बैल मिली है उन्हें वोह पूरा करे .

विडियो देखे ;

Comments

comments