इस शार्ट फिल्म में दर्द है, साहस है, समाज की कडवी सच्चाई है, और जीत की ख़ुशी है #women#empowerment

0
717

फिल्म गीता, गीता नाम की स्टंटवुमन पर आधारित है यह फिल्म, जिसमे उनकी ज़िन्दगी के कहानी वह सुना रही है और कैसे दुखो और समाज का सामना कर के, वह अपनी इच्छा शक्ति से अंत में इस समाज में एक मुकाम हासिल करती है.

वूमेन एम्पावरमेंट तभी हो सकती है जब औरत खुद को किसी से कम न समझे. औरतो को खुद अपने हक़ के लिए लड़ना चाहिए यह कहानी हमे बताती है.

Comments

comments